राजस्थान मिशन 2030 के लिए जिला कलेक्टर ने किया युवाओं से संवाद

मिशन 2030 के लिए जिला कलक्टर ने किया युवाओं से संवाद
कहा- बड़ी सोच के सुझाव दें युवा, हो सकता है आपका दिया सुझाव लागू हो जाए
अपनी प्रतिभा को निखारें युवा

झुंझुनूं, 1 सितंबर। जिला मुख्यालय स्थित सूचना केंद्र सभागार में शुक्रवार को मिशन 2030 के तहत जिला प्रशासन द्वारा युवाओं से संवाद कार्यक्रम रखा गया। जिसके तहत विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा, युवा संबल योजना के लाभार्थी, आरएसएलडीसी से प्रशिक्षण ले रहे लाभार्थी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग से छात्रवृति ले रहे लाभार्थियों ने प्रदेश के विकास के लिए सुझाव दिए।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

इस मौके पर जिला कलक्टर डॉ खुशाल ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि युवा बड़ी सोच के साथ सुझाव देंवे, हो सकता है आपका दिया सुझाव मुख्यमंत्री महोदय लागू कर दें। उन्होंने कहा कि युवा अपनी प्रतिभा को निखारें। केवल किताबी पढ़ाई ही एकमात्र आयाम नहीं है। वहीं एडीएम मुरारी लाल शर्मा ने अपने छात्र जीवन के अनुभव साझा करते हुए कहा कि सही दिशा में की गई मेहनत ही सफलता दिलाती है।

महिला अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक विप्लव न्यौला ने युवाओं को मिशन 2030 के बारे में विस्तार से जानकारी दी और वेबसाईट पर सुझाव अपलोड करने की प्रक्रिया समझाई। वहीं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक मो. अशफाक़ ख़ान ने विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के संबंध में सुझाव देने के लिए युवाओं को प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि मिशन 2030 का मूल मंत्र प्रदेश की प्रगति को 10 गुना बढ़ाना है।

जिला रोजगार अधिकारी दयानंद यादव ने विभिन्न भर्ती प्रक्रियाओं के संबंध में युवाओं से सुझाव लिए और मिशन 2030 का विस्तार से वर्णन किया। आरएसएलडीसी के जिला कौशल समन्वयक अमित ने व्यवसायिक और रोजगारोन्मुखी कोर्सेज के संबंध में युवाओं से सुझाव लिए। कार्यक्रम में एसडीएम कविता गोदारा ने भी अपने fवचार व्यक्त किए।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*